गुमला:भाई-बहन के हत्यारों की गिरफ्तारी को लेकर प्रदर्शन 

0
178

भाई-बहन के हत्यारों की गिरफ्तारी को लेकर प्रदर्शन 

ब्यूरो रिपोर्ट,गुमला

झारखंड नवनिर्माण दल घाघरा प्रखंड समिति के द्वारा कोटामाटी के ग्रामीणों से मिलकर भाई-बहन के हत्यारों को जल्द कड़ी सजा व बढ़ते अपराध के खिलाफ, ” हत्या – बलात्कार , गुंडागर्दी बर्दाश्त नहीं ” , ” बढ़ते अपराध हर हाल में रोकना होगा ” , ” जन सुरक्षा की गारंटी करो ” , ” हेमंत सरकार होश में आओ ” , ” पुलिस प्रशासन होश में आओ ” जैसे आक्रोश पूर्ण नारे के साथ घाघरा की मुख्य सड़क में सोशल डिस्टेंसिंग के तहत आक्रोश मार्च झानद केंद्रीय सदस्य सह महिला नेत्री पुष्पा पन्ना झानद केंद्रीय सदस्य प्रकाश उरांव के संयुक्त नेतृत्व में निकाली गई । विदित हो कि भाई -बहन के हत्यारों की हो रही गिरफ्तारी के बाद झानद ने घाघरा बंद के जगह पर बढ़ते अपराध के खिलाफ आक्रोश मार्च निकाला ।


इस मौके पर आक्रोश मार्च में शामिल झारखंड नवनिर्माण दल के संयोजक विजय सिंह ने कहा कि झारखंड में हत्या , बलात्कार , गुंडागर्दी , सुबे में बढ़ी है । दुमका , गढ़वा में बलात्कार व हत्या एवं खूंटी में दंपति व घाघरा में भाई – बहन की अपहरण के बाद निर्मम हत्या के अलावे कई हत्याकांड जैसे अपराधिक घटनाएं राज्य के कोने-कोने में घट रही है , जिसे रोकने के लिए हेमंत सरकार को ठोस कदम उठाने की बात कहते हुए श्री सिंह ने कहा है कि पूर्व के रघुवर व वर्तमान के हेमंत सरकार संरक्षित अपराधी घाघरा के युवा वर्ग को अपराध व नशा की लत लगा कर नौजवानों को बर्बाद कर रहे हैं जिस पर स्थानीय सांसद- विधायक की चुप्पी भी अपराधियों का मनोबल बढ़ा रही है नतीजतन कोटामाटी के होनहार भाई-बहन की निर्दयता पूर्वक हत्या जिसका परिणाम है । जिसका जवाब घाघरा वासियों को समय आने पर चुप्पी का चादर ओढ़े पार्टी और नेताओं को देना होगा । श्री सिंह ने यह भी कहा है कि बढ़ते अपराध पर सरकार व पुलिस रोक लगाने के लिए ठोस पहल नहीं करती है तो झारखंड नवनिर्माण दल आंदोलन को तेज करते हुए थाना का घेराव तथा घाघरा बंद जैसा कार्यक्रम की तैयारी करने को विवश होगी । वहीं महिला नेत्री पुष्पा पन्ना व झानद नेता प्रकाश उरांव ने कहा कि घाघरा के आबोहवा में अपराध रूपी वायरस पुलिस की नाकामी के कारण फैल चुकी है, जिससे साफ किए बिना बेकाबू अपराध को रोकना संभव नहीं है । नेताओं ने कहा कि गुमला एसपी इसे गंभीरता से लेकर हर हाल में घाघरा सहित जिले में बढ़ते अपराध पर रोक लगाएं नहीं तो उग्र आंदोलन के सिवाय हमारे पास कोई दूसरा रास्ता नहीं बचता है । आक्रोश मार्च के जरिए बढ़ते अपराध पर रोक तथा लॉकडाउन के बहाने आम जनता से मनमाने भाड़े वसूली जैसे ज्वलंत मुद्दे को लेकर 10 नवंबर 2020 को घाघरा हाईस्कूल मैदान में 11:00 बजे से सोशल डिस्टेंसिंग के तहत खास बैठक आयोजित करने की भी घोषणा की गई है । इस मौके पर झारखंड नवनिर्माण दल के जिला अध्यक्ष सह किसान नेता आदित्य सिंह , झारखंड नवनिर्माण दल मजदूर यूनियन के बिशुनपुर प्रखंड प्रभारी रामप्यार तूरी , सुशील भगत , सहदेव भगत , बिलास उराँव , बिरसाई उराँव , रोपना उराँव , सूर्यदेव भंडारी , करम उराँव , बलराम उराँव, रवि उराँव , विनोद उराँव , गोपाल उराँव , वाहिद राय , कुर्बान खान , प्रमोद उराँव, कुसमा मिंज , सुनीता उरांव , कर्मी उराँईन, सहमनिया देवी , सविता देवी के अलावे सैकड़ों की संख्या में लोग भाग लिए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here